मशरूम के Business कैसे करें?

नमस्कार दोस्तो! भारत के बहुत लोग अलग अलग तरह के खेती करते हैं और उसी मे से एक famous खेति है मशरूम की खेती जिसे करके लोग अच्छा Business भी करते हैं। आपको पता नहीं है तो बता दु की मशरूम को लोग खाने के लिए खरीदते हैं और इसका बाजारों मे काफि डिमांड रहती हैं।

आपके मन मे एसे सवाल आते होंगे जेसे मशरूम कि मशरूम की खेती कैसे करें, मशरूम कि business करके पैसे कैसे कमाए?

अगर आपको मशरूम कि Business की बारे मे जानने कि interested हो तो आप सहि पोस्ट मे आये हो कारण इसे पढ़ कर आप इसके वारे मे बहुत कुछ सीखेंगे।

Mashroom ki business

मशरूम क्या है?

मशरूम एक पौष्टिक आहार है जिसमें एमीनो एसिड, खनिज, लवण, विटामिन जैसे पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं। मशरूम से तरह-तरह के व्यंजनों तैयार किए जा सकते हैं। मशरूम के प्रोडक्ट बना कर उनको बेचना एक अच्छा व्यवसाय हो सकता है क्योंकि मशरूम पाउडर, मशरूम पापड़ और मशरूम का अचार तैयार करने का काम कुटीर उद्योग स्तर पर करके बहुत पैसा कमाया जा सकता है।

मशरूम बीज की कीमत:

इसके बीज की कीमत लगभग 70 से 75 रुपए प्रति किलोग्राम होती है, जो कि ब्रांड और किस्म के अनुसार बदलती रहती है. इसलिए आपको पहले यह तय करना होगा, कि आप किस तरह की मशरूम को उगाना चाहते है या business करना चाहते हो.

मशरूम कहां बेच सकते है?

मशरूम की मांग कई जगहों पर होती है। इसके अलावा मशरूम का उपयोग अधिकतर चाइनीज खाने में किया जाता है. इसके अन्य लाभकारी गुणों के कारण इसको मेडिकल के क्षेत्र में भी उपयोग किया जा रहा है. इतना ही नहीं इसका निर्यात एवं आयात भी कई देशों में किया जाता है, अर्थात इसको बेचने के लिए बहुत से क्षेत्र मौजूद है.

कितना Investment चाहिये:

इस पर लगाई जाने वाली राशि आपकी क्षमता एवं व्यापार के स्तर के अनुसार बदलती रहती है.अगर आप छोटा व्यापार शुरू करते है, तो 10000 रुपए से 50000 रुपए तक लगा सकते हैं. वहीं बड़े व्यापार के लिए आप 1 लाख रुपय से 10 लाख रुपए का निवेश करना उचित रहेगा मगर इसकी खास बात ये हैं की आप इसे कम Investment मे भी शुरू कर सकते हो.

मशरूम के व्यापार में मिलने वाला लाभ:

आप इस व्यापार में कम समय में ही अच्छा मुनाफा या मुकाम हासिल कर सकते है. अगर आप 100 वर्गमीटर में व्यापार आरम्भ करते है, तो आपको लगभग 1 लाख रुपए से लेकर 5 लाख तक का लाभ मिल सकता है, वो भी हर साल. हालांकि ये आपकी उत्पादन क्षमता बढ़ाने वाली तकनीकी पर निर्भर करेगा.

मशरूम कहां पैदा हो सकता है?

मशरूम उत्पादन में मौसम का खास महत्व है। मशरूम की एक वैराइटी वॉल वैरियल्ला के लिए तापमान 30 से 40 डिग्री सेल्सियस व नमी 80 से ज्यादा होनी चाहिए। इसका उत्पादन अप्रैल से अक्तूबर के बीच किया जाता है। ऑयस्टर मशरूम के लिए तापमान 20 से 30 डिग्री सेल्सियस तथा नमी 80 फीसदी से अधिक होनी चाहिए। इसके उत्पादन के लिए सितम्बर-अक्तूबर का महीना बेहतर माना जाता है। टेम्परेंट मशरूम के लिए 20 से 30 डिग्री सेल्सियस तापमान व 70 से 90 फीसदी नमी जरूरी है। इसका उत्पादन अक्तूबर से फरवरी के बीच ठीक रहता है

बड़े स्तर पर मशरूम की खेती:

बड़े स्तर पर मशरूम की खेती हेतु आपको बड़े स्थान के साथ-साथ बीज की मात्रा में भी वृद्धि करनी होती है. मतलब अंतर सिर्फ स्थान, लागत एवं कच्चे माल को खरीदने में ही होता है. मशरूम उगाने की प्रक्रिया तो सभी की एक समान ही होती है.

मशरूम की खेती करने की प्रक्रिया:

मशरूम की खेती करने के लिए आपको एक कमरे की जरुरत होती है, लेकिन आप चाहें तो लकड़ियों का एक जाल बनाकर भी उसके नीचे मशरूम उगाना आरम्भ कर सकते हैं. बाकी सभी बिंदु सभी स्तर के व्यापार के लिए एक जैसे होते हैं  ये निम्न प्रकार है

1.धान और गेहूं के भूसे की मदद से कॉम्पोस्ट खाद बनाना जिसके लिए आप गेहूं या धान के भूसे का उपयोग कर सकते है.

2. इसके बाद मशरूम की बुवाई की जाती है बुवाई की प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद इस पैकेट में कुछ छोटे-छोटे छिद्र कर दिए जाते है. जिससे मशरूम के पौधे बाहर निकल सकें.

3. लगभग 15 दिन तक इस फसल को हवा लगने से बचाना पड़ता है,फिर 15 दिन के बाद इसी कमरे को खुला छोड़ दे या पंखे का भी इंतजाम कर दें.

4.नमी पर नियंत्रण करने के लिए आपको कभी-कभी दीवारों पर पानी का छिड़काव करना होगा,इसके बाद आपको कमरे के तापमान पर भी ध्यान देना बहुत जरुरी है. मशरूम की फसल को अच्छे से उगाने हेतु लगभग 20 से 30 डिग्री का तापमान ही ठीक रहता है.

5.अपने कमरे में मशरूम की खेती करने के लिए आपको मशरूम वाले थैले को तरीकों से रखना होता है.

6.विशेषज्ञों की माने तो इसकी फसल अधिकतम 30 से 40 दिनों के भीतर काटने के लिए तैयार हो जाती है. उसके बाद आपको इसका फल दिखाई देने लगता है, जिसे आप आसानी से हाथ से ही तोड़ सकते हैं.

और जानिये- Business करके पैसा कैसे कमाए?

सरकार द्वारा सहायता:

मशरूम उत्पादन स्वरोजगार के लिहाज से अच्छा माना जा रहा है। यह काम कम पूंजी और छोटी जगह पर भी हो सकता है। सरकार इस क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक योजनाएं चला रही है। मशरूम उत्पादन को स्वरोजगार के रूप में अपनाने वाले उम्मीदवारों को भारत सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा पांच लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता की व्यवस्था की जाती है।

सरकार द्वारा मशरूम की खेती के लिए प्रशिक्षण:

छोटे किसानों हो या एक नया Business Man को इस व्यापार में सब्सिडी  देकर उनका मदद की जा रही है. सब्सिडी के अलावा सरकार द्वारा मुफ्त प्रशिक्षण की सुविधा भी दी जा रही है. जिसके लिए सरकार ने कई प्रशिक्षण केंद्र खोल रखे है. जहां आपको मशरूम उगाने की सभी तकनीकों के बारे में सिखाया जायेगा.

आखरि कुछ Lines:

दोस्तो आशा करते है की मशरूम की business की बारे मे आपको लाभदायक जानकारी मिल सुके होंगे। अगर आपके मन मे कोई भी सवाल हो तो आप हमें Comment की जरिये से पूछ सकते हो।

इस वेबसाइट से आपको बहुत तरह की ज्ञान मिल सकते हैं, हमारे दिये गयी Latest पोस्ट को पढ़ने के लिए और पैसा कमाने की तरीकों को जानने के लिए अपना ईमेल से सब्स्क्राइब (subscribe) करिये।

2 Comments

  1. Pingback: FAST FOOD Business कैसे करे? (2021) - हिन्दी मे

Write A Comment